स्वपनदोष का इलाज उपचार, रोकने के उपाय

Health
Spread the love

यह रोग एक प्रकार का पुरुषो का रोग है। जब यह रोग किसी भी व्यक्ति को हो जाता है। तो रात को जब व्यक्ति सो रहा होता है। उस समय उसके लिंग मे एक प्रकार की उतेजना होकर वीर्यपात (Nightfall) हो जाता है। यदि स्वपनदोष के कारण महीने मे 3 से 4 बार वीर्यपात (nightfall) हो जाता है तो रोगी के सिर मे दर्द और शरीर (body) मे सुस्ती नही होती है। लेकिन जब वीर्य पात (nightfall) इससे अधिक बार रात के समय हो जाता है। तो रोगी व्यक्ति के शरीर कमजोर होने लग जाता है इस स्वपनदोष के रोग को जल्दी ही ठीक करना चाहिए नही तो रोगी व्यक्ति के स्वास्थ्य (health) पर बुरा असर पड़ता है। और इस वजह से शरीर मे और भी कई तरह के रोग होने लग जाते है। आज हम आपको स्वपनदोष का इलाज उपचार,रोकने के उपाय के बारे मे ब्तायंगे।

स्वपनदोष क्यों होता है कारण।

स्वपनदोष के रोग हो जाने का मुख्य कारण शरीर मे दूषित द्रव का जमा होना माना जाता है। तो स्वपनदोष हो जाता है। और जो व्यक्ति गलत तरीके से s3x करता है। उसे यह रोग हो जाता है। कुछ व्यक्ति अश्लील विचारो के बारे मे अधिक सोचते है। जिस वजह से उनको रात मे गलत सपने आते है। जिसके कारण सोते समय उनमे अधिक उत्तेजना हो जाती है। और स्वपनदोष हो जाता है। हम आपको स्वपनदोष के कुछ और कारणों के बारे मे बताते है। जैसे:-

  • अश्लील फिल्मे व पुस्तके पड़ने से मन मे गंदे विचार आना।
  • कब्ज होना या पेट की गर्मी होना पेट के रोग होने से।
  • उलटे होकर सोना पेट के बल सोने से।
  • शराब का अधिक सेवन करना ये सब स्वपनदोष के मुख्य कारण माने जाते है।

स्वपनदोष का घरेलू इलाज उपचार उपाय

  • स्वपनदोष के रोग से पीड़ित लोगो को पहले इसके होने के कारणों को दूर करना चाहिए। इस  रोग को ठीक करने के लिए पीडित को 1 दिन का का उपवास (Fast) रखना चाहिए था। उपवास रखने के दौरान कागजी निम्बू पानी पीना है, इस उपवास के 1-2 दिन तक फलो का रस पीना चाहिए जिससे हमारे शरीर से हानिकारण दूषित तत्व बहार निकल जायगे और स्वपनदोष के इलाज में मदद मिलती है.
  • सुबह के समय गाय का दूध (milk) पीना चाहिए था साय को उबली हुई सब्जियों व सलाद का सेवन करना चाहिए इससे रोगी को अधिक लाभ होता है।
  • 4 से 5 जामुन की गुठली का चूर्ण सुबह-शाम पानी के साथ लेने से स्वपनदोष ठीक हो जाता है।
  • इमली के बीज 125 ग्राम को 400 ग्राम दुध में भिगोकर रखें. दो दिन बाद छीलकर उसे पीस लेवें. 6-6 ग्राम सुबह शाम पानी के साथ सेवन करने से भी यह रोग ठीक हो जाता है।
  • 8 ग्राम सफेद प्याज, 3 ग्राम देशी शहद , 5 ग्राम अदरक रस, और 3 ग्राम देशी घी को मिलाये और इस मिश्रण का रात को सोने से पहले सेवन करे. यह एक अच्छा स्वपनदोष का उपचार है
  • एक लीटर पानी में त्रिफला के चूर्ण को मिला लें यह काम रात में करें। और सुबह इसे छानकर पीएं। यह उपाय भी स्वप्न दोष की समस्या को जड़ से ठीक कर देता है।
  • अखरोट के छिलके को अच्छे से पीसकर उसमे थोड़े स्वादानुसार खांड मिला. और उसके पानी के साथ कुछ दिन तक पिए, इससे Swapandosh रोग ठीक हो जाता है.
  • जिन लोगों को अधिक स्वप्नदोष होता है। वे अपने पेट के निचले भाग पर गर्म-ठंडा सेंक करते रहें। ये एक अच्छा स्वपनदोष रोकने का उपाय है.
  • अनार के छिलकों को अच्छे से पीसकर 5 ग्राम सुबह और और उतना ही शाम पानी के साथ कुछ दिनों तक लेते रहना भी इस बीमारी मे लाभकारी माना जाता है।

 

स्वपनदोष मे सावधानी रखने योग्य बाते। SWAPANDOSH ROKNE KE UPAY :-

  1. रात को सोते समय खुले अंतर वस्त्र (under wear) पहन कर सोए।
  2. गुप्तांगो को रोज साफ पानी से धोए व इनकी साफ सफाई का पूरा ध्यान रखे।
  3. साफ व पौष्टिक भोजन ले कब्ज न होने दे।
  4. रोजाना सुबह जल्दी उठकर योग करे।
  5. अश्लील फिल्मे व पुस्तके न देखे इन सावधानियो से आप स्वपनदोष का रोग होने से बच सकते है।

Leave a Reply