शाह नही यह शख्स है कश्मीर का गेमचेंजर, अभी नही तो कभी नही सुधरेंगे हालात?

Politics
Spread the love

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में जब बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल एक दूसरे से मिले तो किसी को भी यह अंदाजा नही था कि इतना बड़ा फैसला लिया जा सकता है। हालांकि इस गठबंधन के भविष्य को लेकर संशय तो पहले दिन से ही था और हाल के दिनों में कश्मीर में बिगड़े हालात ने इस बात को और हवा दे दी थी। बीजेपी-पीडीपी का गठबंधन कहीं से भी सही नही लगा था। देश मे इसके प्रति गुस्सा बढ़ रहा था और 2019 से पहले बीजेपी को कहीं न कहीं यह लगने लगा था कि अब नही संभाला गया तो बीजेपी के लिए यह नुकसानदायक हो सकता है। इसके पीछे कारण यह है कि कश्मीर और सेना की शहादत का मुद्दा जनभावना से जुड़ा है और इस मुद्दे को लेकर पूरा देश एकजुट दिखा है।

अब बात करते हैं कल शाह और डोभाल की मुलाकात की, इस बैठक में कश्मीर की स्थिति की गंभीरता को समझने का प्रयास अमित शाह ने किया। वह यह अच्छी तरह जानते थे कि कश्मीर के मामले में डोभाल से अच्छी ग्राउंड रिपोर्ट कोई नही बता सकता है। इसके अलावा डोभाल पीएम के करीबी भी हैं तो उनपर भरोसा आंख बंद कर किया गया। बीजेपी यह भी भली भांति जानती है कि अगर वह समर्थन वापस ले ले तो घाटी में सरकार नही बन सकती है। इसके पीछे कारण यह है कि नेशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस गठबंधन कर के भी जादुई आंकड़ा नही छू सकते हैं। इसके अलावा पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस दो अलग धुरी हैं और राज्य की राजनीति में गठबंधन कर खुद अपना नुकसान कतई नही चाहेंगे।

अब राज्य में राष्ट्रपति शासन लगने की पूरी संभावना है। ऐसे में अब कश्मीर में न किसी गठबंधन का दबाव होगा न फैसले लेने में कोई तोल मोल। अब न सेना को अपने हाथ बांधने की मजबूरी होगी न ही स्थानीय पुलिस के सहयोग के लिए सेना को पहले की तरह लंबी प्रक्रिया अपनानी होगी। ऐसे में राज्यपाल के शासन में असली काम सेना करेगी। इसको पर्दे के पीछे अजित डोभाल ही मॉनिटर करेंगे। ऐसे में कश्मीर में हालात सुधारने की पूरी उम्मीद की जा सकती है। शायद यही वजह भी रही कि बीजेपी अलग भी हुई। वह घाटी में स्थिति को संभालते हुए 2019 से पहले यह दिखाना चाहती है कि कश्मीर को लेकर कोई समझौता नही होगा। बाकी देखना यह है कि डोभाल के भरोसे लिया गया शाह का यह फैसला क्या गुल खिलाता है।

Leave a Reply